विदेशी मुद्रा विश्वकोश

Bitcoin का फायदा

Bitcoin का फायदा

Cryptocurrency Market में आई गिरावट का उठाएं फायदा, जानें आज का लेटेस्ट रेट

क्रिप्टोकरेंसी ने बहुत ही कम समय में निवेशकों को अच्छा मुनाफा दिया है. आइए जानते हैं किस क्रिप्टोकॉइन की क्या है कीमत.

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) बहुत ही कम समय में निवेशकों का लोकप्रिय बन गया है. आज ज्यादातर लोग जल्दी अमीर बनने के लिए इसमें निवेश कर रहे हैं. हालांकि क्रिप्टो में जितना जोखिम है उतना ही इसमें फायदा भी है. बहुत ही कम समय में इसने अपने निवेशकों को अच्छा रिटर्न दिया है. आइये जानते हैं कि इस वक्त बिटक्वाइन (Bitcoin), डॉगकॉइन (Dogecoin), एक्सआरपी (XRP) और एथेरियम (Ethereum) के अलावा कार्डानो (Cardano) का लेटेस्ट रेट क्या है.

1. बिटक्वाइन (Bitcoin)

बिटक्वाइन (Bitcoin)

बिटक्वाइन (Bitcoin) क्रिप्टोकरेंसी इस वक्त 20,029.15 डॉलर पर ट्रेड कर रहा है. इसमें इस वक्त 1.58 प्रतिशत की गिरावट देखी जा रही है. इस रेट पर बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप 383.55 बिलियन डॉलर है. बीते चौबीस घंटे के दौरान बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी की हाईएस्ट कीमत 20,411.40 डॉलर और न्यूनतम कीमत 19,631 डॉलर रही है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक Bitcoin का फायदा साल में 56.56 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है. बिटक्वाइन क्रिप्टो करेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 68,990.90 डॉलर रही है.

2. एथेरियम (Ethereum)

एथेरियम (Ethereum)

एथेरियम (Ethereum) बिटकॉइन के बाद दूसरा सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी है. इस वक्त यह 1,601.84 डॉलर पर चल रहा है. इसमें इस वक्त 0.05 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की जा रही है. इस रेट पर एथेरियम की मार्केट कैप 191.82 बिलियन डॉलर है. बीते चौबीस घंटे के दौरान एथेरियम की अधिकतम कीमत 1,652.98 डॉलर और न्यूनतम कीमत 1,560.27 डॉलर रही है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 56.04 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है. एथेरियम (Ethereum) की ऑलटाइम हाई कीमत 4,865.57 डॉलर रही है.

एक्सआरपी (XRP)

एक्सआरपी (XRP) इस वक्त 0.335658 डॉलर पर ट्रेंड कर रहा है. इसमें इस वक्त 0.19 प्रतिशत की तेजी देखी जा रही है. इस रेट Bitcoin का फायदा पर एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप 33.53 बिलियन डॉलर हो गई है. बीते चौबीस घंटे के दौरान एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी की अधिकतम कीमत 0.34 डॉलर और न्यूनतम कीमत 0.33 डॉलर दर्ज की गई है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 59.41 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है.एक्सआरपी (XRP) क्रिप्टो करेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 3.40 डॉलर रही है.

4. कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano)

कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano)

कार्डानो (Cardano) इस वक्त 0.471388 डॉलर पर ट्रेंड कर रहा है. इसमें इस वक्त 0.46 प्रतिशत की गिरावट देखी जा रही है. इस रेट पर कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप 15.84 बिलियन डॉलर हो गई है. बीते चौबीस घंटे के दौरान कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी की अधिकतम कीमत 0.49 डॉलर और न्यूनतम कीमत 0.47 डॉलर दर्ज की गई है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 63.88 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है. कार्डानो (Cardano) क्रिप्टो करेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 3.10 डॉलर रही है.

5. डॉगकॉइन क्रिप्टोकरेंसी (Dogecoin)

डॉगकॉइन क्रिप्टोकरेंसी (Dogecoin)

डॉगकॉइन (Dogecoin) इस वक्त 0.060376 डॉलर पर ट्रेंड कर रहा है. इसमें इस वक्त 0.13 प्रतिशत की तेजी देखी जा रही है. इस रेट पर डॉगकॉइन क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप 8.21 बिलियन डॉलर हो गई है. बीते चौबीस घंटे के दौरान डॉगकॉइन क्रिप्टोकरेंसी की अधिकतम कीमत 0.06 डॉलर और न्यूनतम कीमत 0.06 डॉलर दर्ज की गई है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 64.50 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है. डॉगकॉइन (Dogecoin) क्रिप्टो करेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 0.740796 डॉलर रही है.

Cryptocurrency : क्रिप्टो मार्केट में आज फायदा ही फायदा, जानें आप कैसे कमा सकते हैं फायदा

Cryptocurrency Market : अगर आप अपना पैसा कहीं निवेश करने की सोच रहे हैं। और चाहते हैं कि आप जहां निवेश करें वहां आपका पैसा डबल हो। इस समय दुनिया की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) बाजार का नाम काफी सुर्खियों में है। वर्तमान में लोगों ने Bitcoin का फायदा क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) को अमीर बनने का सबसे सरल मार्ग समझ लिया है। लोग क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के माध्यम से काफी पैसा कमा रहे हैं। लेकिन क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) से अमीर बनने का रास्ता समझने वाले लोगों के सपने उस वक्त टूट गए जब दुनिया भर की सरकारों ने इस मार्केट पर सख्ती बरतना शुरू किया। सरकारों की सख्तियों के कारण ये मार्केट अचानक से लुढ़कने लग गया। लेकिन बावजूद इसके कई क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) लोगों को कई गुना ज्यादा मुनाफा उपलब्ध करा रही थीं।

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) की बात करें तो मार्केट में बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी (Bitcoin Cryptocurrency) में भी इस वक्त थोड़ी गिरावट दिख रही है। बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी (Bitcoin Cryptocurrency) के ताजा रेट की बात करें तो आज इसके ताजा रेट (खबर लिखे जाने तक) 0.54 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 19,230.80 यूएस डॉलर है। वहीं भारतीय मुद्रा में इसकी कीमत (खबर लिखे जाने तक) 15,89,109.88 रूपये है। बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 68,990.90 डॉलर रही है।

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के तेजी से बढ़ते मार्केट में एथेरियम क्रिप्टोकरेंसी (ETH Cryptocurrency) भी तेजी से बढ़ रहा था परंतु अभी इसकी कीमत में गिरावट देखी जा रही है। मार्केट में इस वक्त एथेरियम क्रिप्टोकरेंसी (ETH Cryptocurrency) के आज के ताजा रेट अभी तक (खबर लिखे जाने तक) 1.22 फीसदी की तेजी के साथ 1,300.64 यूएस डॉलर है। वहीं भारतीय मुद्रा में इसकी कीमत (खबर लिखे जाने तक) 1,07,597.39 रूपये है। साथ ही एथेरियम क्रिप्टोकरेंसी (ETH Cryptocurrency) की ऑलटाइम हाई कीमत 4,865.57 डॉलर रही है।

मार्केट में क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) की बात हो और कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano Cryptocurrency) की चर्चा न हो ऐसा कैसे हो सकता है। अन्य क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के साथ कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano Cryptocurrency) में भी गिरावट दिख रही है। कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano Cryptocurrency) के रेट्स की बात करें तो इसके आज के ताजा रेट्स अभी तक (खबर लिखे जाने तक) 0.78 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 0.35 यूएस डॉलर है। साथ ही इसकी भारतीय मुद्रा में इसकी कीमत (खबर लिखे जाने तक) 29.24 रूपये है। वहीं इस दौरान इसकी ऑलटाइम हाई कीमत 3.10 डॉलर रही है।

क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के मार्केट में एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी (XRP Cryptocurrency) भी तेजी से मार्केट में उभरा है, लेकिन फिलहाल इसकी कीमत में भी गिरावट दर्ज की गई है। एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी (XRP Cryptocurrency) के ताजा रेट्स की बात करें तो अभी तक (खबर लिखे जाने तक) इसके रेट 2.45 फीसदी की तेज़ी के साथ 0.46 यूएस डॉलर है। साथ ही भारतीय मुद्रा में इसकी कीमत (खबर लिखे जाने तक) 38.23 रूपये है। वहीं इस दौरान एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी (XRP Cryptocurrency) की ऑलटाइम हाई कीमत 3.40 डॉलर रही है।

अगर आप Share Market, Mutual Funds इत्यादि में इन्वेस्ट किये बिना ही पैसे कमाना चाहते हैं तो Groww App डाउनलोड कर सकते हैं और डाउनलोड करने के बाद उसपर अपना अकाउंट बना सकते हैं। Groww App डाउनलोड करने के बाद वहाँ एक एकाउंट बना कर KYC पूरी करनी होगी। KYC पूरी करने के लिए आधार कार्ड और पैन कार्ड की जरूरत होगी। जैसे ही आप अपनी KYC पूरी करेंगे आपको ₹1000 तक मुफ्त में मिल जाएगा। अब आप चाहें तो इस पैसे को अपने बैंक में ट्रांसफर कर सकते हैं या इसे Share Market या Mutual Fund इत्यादि में Invest कर सकते हैं।

नोट : Groww App डाउनलोड करने के लिए लिंक नीचे दिया गया है। यह ऑफर लिंक है और इस लिंक पर क्लिक करने के बाद Groww App डाउनलोड करें जिससे आपको ₹1000 तक मुफ्त में मिले।

अगर आप चाहते हैं शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करना तो यह बेहद ही आसान है और कुछ ऐप (Apps) इसे और भी आसान बना रहे हैं। फिलहाल Groww App शेयर मार्केट (Share Market) में इन्वेस्ट करने के लिए बेहतर ऐप सबित हो रहा है और इसके माध्यम से आप आसानी से शेयर मार्केट (Share Market) में इन्वेस्ट कर सकते हैं यानी कि शेयर खरीद (Buy Share) और बेच (Sell Share) सकते हैं। नीचे हम इस ऐप का लिंक दे रहे हैं आप चाहे तो डाउनलोड कर अपना अकाउंट बनाकर शेयर मार्केट में इन्वेस्ट (Invest In Share Market) कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखना है कि अकाउंट बनाने के साथ ही आपको कुछ डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन करना होता है जो बेहद ही आसान है। शेयर मार्केट में इन्वेस्ट (Invest In Share Market) करना है जोखिम भरा हो सकता है और जो भी कदम आप उठाने जा रहे हैं वह आप अपने जोखिम पर ही उठाएंगे। नीचे दिए गए लिंक से Groww App डाउनलोड करने पर आपको ₹1000 तक का फ्री Bitcoin का फायदा में फायदा मिल जाएगा जिसे आप Share Market में Invest कर सकते हैं।

Groww App पर नीचे दिए गए लिंक से क्लिक करने के बाद ही डाउनलोड और App पर रजिस्ट्रेशन करें। KYC के लिए PAN Card और Aadhar Card तैयार रखें। बिना KYC पूरा किये यह लाभ नही मिलेगा। आप Groww App पर अगर इन्वेस्टमेंट करते है तो यह आपकी जिम्मेदारी होगी। यह आपको वित्तीय जोखिम का खतरा भी देता है।

आपके काम की हर महत्वपूर्ण खबर और अपडेट उपलब्ध है हमारे इस वेबसाइट पर। चाहे हो रोजगार से जुड़ी खबर या हो योजनाओं संबंधी जानकारी हर अपडेट और हर खबर आपको मिलेगी हमारे इस वेबसाइट पर। अगर आप चाहते हैं कि जब भी हम कोई खबर प्रकाशित करें तो आपको उसका नोटिफिकेशन मिले तो आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं जिसका लिंक इस पोस्ट के नीचे हरे रंग की पट्टी में दिया गया है। नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ सकते हैं और हर अपडेट का नोटिफिकेशन सबसे तेज और पहले प्राप्त कर सकते हैं। हमारे टेलीग्राम चैनल से जुड़ने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि आपको हर खबर का नोटिफिकेशन सबसे तेज मिल Bitcoin का फायदा Bitcoin का फायदा जाता है और आपसे आपके काम की कोई भी महत्वपूर्ण खबर नहीं छूटती है।

Cryptocurrency: किसी को रातोंरात कर सकती है मालामाल तो किसी को कंगाल, जानिए क्रिप्टोकरेंसी के फायदे और नुकसान

टाइम्स नाउ ब्यूरो

What is cryptocurrency: क्रिप्टोकरेंसी को लेकर इन दिनों देश में एक बहस सी चल पड़ी है। खुद पीएम मोदी इसे लेकर आगाह कर चुके हैं। आरएसएस से जुड़े स्वदेशी जागरण मंच ने तो इसे लेकर कानून बनाने की मांग की है।

Cryptocurrency know the advantages and disadvantages of Cryptocurrency and Bitcoin

  • देश और दुनियाभर में तेजी से बढ़ रहा है क्रिप्टोकरेंसी का चलन
  • पीएम मोदी ने क्रिप्टो को लेकर जताई चिंता, कहा- ये जरूरी है कि Bitcoin का फायदा सभी लोकतांत्रिक देश इसपर मिलकर काम करें
  • क्रिप्टो किसी को भी घंटों के अंदर बना सकती है मालामाल तो कर सकती है कंगाल भी

Cryptocurrency's advantages and disadvantages: आज बात उस डिजिटल डेंजर की, जिसकी तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हाल ही में इशारा कर चुके हैं। सिर्फ इशारा नहीं बल्कि दुनिया के बड़े और ताकतवर मुल्कों को आगाह कर चुके हैं और इसका नाम है-क्रिप्टो करेंसी। बिटक्वाइन। वही बिटक्वाइन जो किसी की रातों रात मालामाल तो किसी को रातों रात कंगाल बना देती है। आने वाले वक्त में पीएम मोदी इस बाबत बड़ा कदम उठाने वाले हैं। इसका संकेत उन्होंने दो दिन पहले दे दिया था। अब एक्शन की बारी है।

पीएम ने खतरे को लेकर जताई चिंता

पीएम मोदी ने इसे लेकर चिंता जाहिर करते हुए कहा, 'क्रिप्टो करेंसी और बिटक्वाइन। ये जरूरी है कि सभी लोकतांत्रिक देश इसपर मिलकर काम करें और सुनिश्चित करें कि ये गलत हाथों में ना जाए, जो हमारे युवाओं को बर्बाद कर सकता है।' क्रिप्टो करेंसी या बिट क्वाइन को लेकर प्रधानमंत्री ने ये चिंता दो दिन पहले सिडनी डायलॉग में चलाई। ना सिर्फ चिंता जताई, बल्कि दुनिया के सभी बड़े देशों को इससे आगाह भी Bitcoin का फायदा किया। तो सवाल ये है कि आखिर बिटक्वाइन को लेकर प्रधानमंत्री का डर क्या है? पीएम ने क्रिप्टो करेंसी को लेकर अलार्म क्यों बजाया ? कौनसा खतरा है, जिसकी आहट हो चुकी है ?

क्या है क्रिप्टो करैंसी

आज आपको इन सभी सवालों का सिलसिलेवार तरीके से जवाब मिलेगा। लेकिन सबसे पहले ये जान लीजिए कि आखिर ये क्रिप्टो करेंसी है क्या ? जी हां ये वही क्रिप्टो करेंसी या बिट क्वाइन है, जो पूरी दुनिया को बहुत तेजी से अपनी गिरफ्त में लेती जा रही है। इस रफ्तार से कि कल्पना करना मुश्किल है।ये वही क्रिप्टो करेंसी है, जो भारत में लीगल नहीं है। बावजूद इसके भारत वो देश है, जो इस अदृश्य करेंसी में सबसे ज्यादा इन्वेस्ट कर रहा है। इसीलिए सवाल उठता है कि आखिर देश में इस डिजिटल करेंसी का फ्यूचर क्या है? क्या सरकार इसे बैन करेगी या कानूनी मान्यता देगी?

सबसे डरावना पहलू

खैर सरकार इस बाबत क्या करने वाली है, तो आने वाले वक्त में पता चलेगा, लेकिन इस करेंसी के कुछ अपने खतरे हैं। वो क्या. समझिए। इसके अपने खतरे तो हैं ही। चाहे वो सरकार के लिए हों या उन लोगों के लिए जो इसके जरिए रातों रात रईस बनने का सपना देख रहे हैं। लेकिन अब ये भी समझिए कि आखिर इस छिपे हुए या अदृश्य मनी को लाने के पीछे का मकसद क्या था? सबसे डरावना पहलू ये है Bitcoin का फायदा कि जिस तरह से ये रुपया अदृश्य है, उसी तरह से इसे अस्तित्व में लाने वाला शख्स भी।

फायदा और नुकसान दोनों

2010 में एक बिट क्वाइन की कीमत सिर्फ 22 पैसे थे, लेकिन अब इसकी कीमत सुनेंगे तो दंग रह जाएंगे। इस क्रिप्टो करेंसी के खतरे क्या हैं, उसे भी समझिए। इन सब खतरों के बीच, प्रश्न ये है कि आखिर भारत में इस करेंसी का क्या भविष्य है। क्या सरकार इसे बैन करने वाली है, या कानूनी मान्यता देगी? भारत में क्रिप्टो करेंसी बैन होगी या नहीं, इसका जवाब आने वाले वक्त में मिलेगा, लेकिन दुनिया के कई देशों में ये बैन है। तो कहने का मतलब ये है कि क्रिप्टो करेंसी को लेकर सावधान रहने की जरूरत है। क्योंकि जितने इसके फायदे हैं, उतने ही नुकसान भी हैं।

Digital Currency News

Sydney Dialogue: PM Narendra Modi

Cryptocurrency Rules India

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

क्रिप्टो करेंसी की कब हुई थी शुरुआत, क्या हैं इसके फायदे और नुकसान, समझिए पूरा हिसाब

इन दिनों जिस क्रिप्टो करेंसी का जलवा है, ये डिजिटल करेंसी है. इसे आप छू नहीं सकते, लेकिन हां अमीर जरूर हो सकते हैं. आमतौर पर इसका इस्तेमाल किसी सामान की खरीदारी या कोई सर्विस खरीदने के लिए किया जा सकता है.

क्रिप्टो करेंसी की कब हुई थी शुरुआत, क्या हैं इसके फायदे और नुकसान, समझिए पूरा हिसाब

TV9 Hindi | Edited By: रोहित ओझा

Updated on: Dec 23, 2020 | 9:13 AM

डिजिटल होती दुनिया में हर चीज वर्चुअल होती जी रही है. डिजिटल पेंमेट की सुविधा ने लोगों की लाइफ को काफी आसान बना दिया है. डिजिटल होते इस वर्ल्ड में क्रिप्टो करेंसी का क्रेज बढ़ गया है. दुनिया के हर एक देश की अपनी मुद्रा है. जैसे-भारत में रुपया, अमेरिका में डॉलर और ब्रिटेन में पाउंड. लेकिन इन दिनों जिस क्रिप्टो करेंसी का जलवा है, ये डिजिटल करेंसी है. इसे आप छू नहीं सकते, लेकिन हां अमीर जरूर हो सकते हैं. आइए अब समझ लेते हैं इस क्रिप्टो करेंसी का पूरा हिसाब.

कंप्यूटर एल्गोरिथ्म पर बनी क्रिप्टो करेंसी एक इंडिपेंडेंट मुद्रा है. यह करेंसी किसी भी एक अथॉरिटी के काबू में भी नहीं होती. जैसे रुपया, डॉलर, यूरो या अन्य मुद्राओं का संचालन देश की सरकारें करती हैं, लेकिन क्रिप्टो करेंसी का संचलान कोई भी अथॉरिटी नहीं करती. यह एक डिजिटल करेंसी होती है. इसके लिए क्रिप्टोग्राफी का प्रयोग किया जाता है. आमतौर पर इसका प्रयोग किसी सामान की खरीदारी या कोई सर्विस खरीदने के लिए किया जा सकता है.

जापान के एक इंजीनियर ने की थी शुरुआत

सबसे पहले साल 2009 में क्रिप्टो करेंसी की शुरुआत हुई थी, जो बिटकॉइन थी. जापान के इंजीनियर सतोषी नाकमोतो ने इसे बनाया था. शुरुआत में इसे कोई खास सफलता नहीं मिली, लेकिन धीरे-धीरे इसकी कीमत आसमान छूने लगी और ये पूरी दुनिया में छा गया.

क्रिप्टो करेंसी के क्या हैं फायदे और नुकसान

क्रिप्टो करेंसी के कई फायदे हैं और इसके नुकसान भी हैं. पहला फायदा ये है कि डिजिटल करेंसी होने के कारण धोखाधड़ी की गुंजाइश ना के बराबर है. दूसरा ये कि इसकी कोई नियामक संस्था नहीं है. इसलिए नोटबंदी या करेंसी के अवमूल्यन जैसी स्थितियों असर इसपर नहीं पड़ता. क्रिप्टोकरेंसी में मुनाफा अधिक होता है और ऑनलाइन खरीदारी से लेन-देन आसान होता है. इसका सबसे बड़ा नुकसान है कि वर्चुअल करेंसी में भारी उतार-चढ़ाव आपके माथे पर पसीना ला देगा.

एक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले पांच साल में बिटकॉइन जैसी वर्चुअल करेंसी एक ही दिन में बिना किसी चेतावनी के 40 से 50 प्रतिशत गिर गई थी. इसका सबसे बड़ा नुकसान ये होता है कि वर्चुअल करेंसी होने के कारण इसमें सौदा जोखिम भरा होता है. इस करेंसी का इस्तेमाल ड्रग्स सप्लाई और हथियारों की अवैध खरीद-फरोख्त जैसे अवैध कामों के लिए किया जा सकता है. , इसका एक और नुकसान यह है कि यदि कोई ट्रांजेक्शन आपसे गलती से हो गया तो आप उसे वापस नहीं मंगा सकते हैं.

क्रिप्टो करेंसी से क्या भारत में होता है लेनदेन

भारत में क्रिप्टो करेंसी के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया था और वर्चुअल करेंसी के माध्यम से क्रिप्टोकरेंसी में लेन देन की इजाजत दी थी. साल 2018 में इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने भारतीय रिजर्व बैंक के सर्कुलर पर आपत्ति जताते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी. बिटकॉइन के अलावा भी रेड कॉइन, सिया कॉइन, सिस्कोइन, वॉइस कॉइन और मोनरो कॉइन जैसी अन्य क्रिप्टो करेंसी बाजार में उपलब्ध हैं.

क्रिप्टो करेंसी को लेकर भारत में क्या योजना बन रही है?

क्रिप्टो करेंसी

भारत सरकार ने संसद में क्रिप्टो करेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ़ ऑफ़िशियल डिजिटल करेंसी बिल पेश करने का फ़ैसला लिया है. इस विधेयक के बारे में जानकारी अब तक सार्वजनिक नहीं है.

यह विधेयक भारत में क्रिप्टो करेंसी के इस्तेमाल को क़ानूनी रूप से नियंत्रित करेगा.

क्रिप्टो करेंसी पर भारत के हर क़दम पर दुनिया की नज़र Bitcoin का फायदा है. संसद के अगले सत्र में अगर इस विधेयक को पेश किया जाता है तो इस पर निवेशकों की क़रीबी नज़र होगी.

इमेज स्रोत, BEATA ZAWRZEL/NURPHOTO VIA GETTY IMAGES

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण साफ़ कर चुकी हैं कि सरकार की योजना क्रिप्टो करेंसी पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाने की नहीं है. असल में सरकार क्रिप्टो करेंसी के आधार वाली तकनीक ब्लॉकचेन को रक्षा कवच देना चाहती है.

हालांकि, 25 साल की रुचि पाल की उम्मीदें अभी भी बहुत ऊंची हैं और उन्होंने क्रिप्टो करेंसी में ही व्यापार करने का फ़ैसला किया है.

वो कहती हैं, "मुझे नहीं लगता है कि सरकार इस पर प्रतिबंध लगाएगी. हां वे इसे विनियमित ज़रूर करेगी लेकिन प्रतिबंध नहीं लगाएगी. मैं सोचती हूं कि 2017 में भी ऐसा ही हुआ था जब हर कोई क्रिप्टो करेंसी पर बात कर रहा था और कुछ कार्रवाई हुई थी और फिर सबकुछ समाप्त हो गया था."

भारत सरकार जिस डिजिटल करेंसी पर विचार कर रही है उस पर वो क्या सोचती हैं? इस सवाल पर रुचि कहती हैं, "यह बहुत मुश्किल चीज़ है. इसको शुरुआत में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार नहीं किया जाएगा. हम इसे अंतरराष्ट्रीय लेन-देने के लिए इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं. यह अच्छा विचार है लेकिन हमें बिटकॉइन की तरह इसको स्वीकार करने में वक़्त लगेगा. यह हमारी ज़िंदगियों पर ख़ास असर नहीं डालेगा."

भारतीय बड़ी संख्या में क्रिप्टो करेंसी ख़रीद रहे हैं लेकिन इसको लेकर कोई आधिकारिक डाटा नहीं है. वे पर्याप्त लाभ कमाने के मौक़े को छोड़ना नहीं चाहते हैं.

क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने वाले एक व्यक्ति बिना नाम सार्वजनिक किए हुए कहते हैं, "मैं चाहता हूं कि अगर कोई प्रतिबंध लगने वाला है तो मैं उसके होने से पहले अच्छा लाभ कमाऊं. मैं पैसा बनाने का मौक़ा छोड़ना नहीं चाहता हूं."

रेटिंग: 4.26
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 442
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *